24. May 2018 India92°F

Jobs & Employment Archives - Sunnywebmoney.com

SunnyMay 24, 2018
twinshock.JPG

4min00


नरेंद्र मोदी की सरकार को चार साल पूरे हो गए हैं. इन चार साल के दौरान देश का आर्थिक माहौल अच्छा रहा है. कुछ समझदारी भरी आर्थिक नीतियां आईं और कुछ ऐसे फैसले किए गए, जिनसे इकोनॉमी और देश की जनता को दर्द झेलना पड़ा. आइए देखते हैं इकनॉमी के स्कोर बोर्ड पर मोदी सरकार का प्रदर्शन कैसा है.

इकोनॉमी पर लादी गई सजा

पिछले चार साल के दौरान एक बार जीडीपी ग्रोथ 9 फीसदी तक भी पहुंची. चार साल के दौरान औसत विकास दर 5.7 फीसदी रही. ग्रोथ को निजी उपभोग और भारी सरकारी खर्च से रफ्तार मिला लेकिन प्राइवेट इनवेस्टमेंट कमजोर रहा. इनवेस्टमेंट रेशियो जीडीपी के 30 फीसदी से भी कम रही. मेक इन इंडिया का कोई खास नतीजा नहीं आया है. पिछले डेढ़ साल से इकनॉमी नोटबंदी और जीएसटी के झटकों से उबरने में लगी है. नोटबंदी से कैश की किल्लत पैदा हो गई और इससे ट्रांजेक्शन को झटका लगा. जबकि जीएसटी से भी ग्रोथ में उथल-पुथल का आलम रहा.

ग्राफिक्स ः ब्लूमबर्ग क्विंट 

महंगाई के मोर्चे पर राहत

पिछले चार साल में महंगाई में गिरावट आई है और यह स्थिर हो गई है. इसकी एक बड़ी वजह कच्चे तेल के दाम में गिरावट थी. हालांकि एमएसपी पर सरकार के समझदारी भरे फैसले ने भी इसे कंट्रोल में रखा है. सरकार ने महंगाई को नियंत्रण करने वाली नीति अपनाई है और मोनिटरी पॉलिसी कमेटी के फ्रेमवर्क की ओर बढ़ी है. इससे विदेशी निवेशकों की नजर में हमारी इकनॉमी की साख बढ़ी है. हालांकि इस साल तेल के दाम बढ़ने से महंगाई को टारगेट करने का सरकार के पहले फ्रेमवर्क को चुनौती मिल रही है.

ग्राफिक्स – ब्लूमबर्ग क्विंट 

बेहतर राजकोषीय प्रबंधन

राजकोषीय प्रबंधन के मोर्चे पर सरकार का प्रदर्शन अब तक अच्छा रहा है. इकनॉमी की रफ्तार धीमी होने पर सरकार ने रफ्तार बढ़ाने के लिए खजाना नहीं खोला. राजकोषीय घाटे को को यह घटा कर जीडीपी के 4 फीसदी से नीचे ले आई और वित्त वर्ष 2018 में इसने इसका लक्ष्य 3.2 निर्धारित किया है. हालांकि तेल के दाम बढ़ने से इस टारगेट पर दबाव बढ़ा है. वैसे सरकार ने 2020-21 तक राजकोषीय घाटा जीडीपी के तीन फीसदी तक लाने का लक्ष्य रखा है.

ग्राफिक्स – ब्लूमबर्ग क्विंट 

निर्यात के मोर्चे पर निराशा

ग्रोथ को रफ्तार देने में मददगार निर्यात सेक्टर को चार साल के दौरान मजबूती नहीं मिली है. निर्यात में हल्की बढ़त रही है और आयात में तेल के दाम में उतार-चढ़ाव की वजह से उथलपुथल रही. व्यापार घाटे की स्थिति भी अच्छी नहीं है. निर्यात ग्रोथ दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाई है. सरकार के आखिरी साल में चालू खाते का घाटा बढ़ता जा रहा है. बाहर से आ रही पूंजी से इसकी भरपाई नहीं हो पा रही है. इससे रुपये की गिरावट रिकार्ड स्तर पर पहुंच गई है.

ग्राफिक्स – ब्लूमबर्ग क्विंट 

मैन्यूफैक्चरिंग और जॉब ग्रोथ लचर

मोदी सरकार का एक बड़ा वादा था कि वह हर साल 1 करोड़ रोजगार पैदा करने में मदद करेगी. नौकरियां पैदा करने के लए मैन्यूफैक्चरिंग पर फोकस होगा. उम्मीद जताई गई थी कि मैन्यूफैक्चरिंग जीडीपी के 25 फीसदी तक पहुंच जाएगी. रोजगार सृजन पर कोई ऐसा आंकड़ा नहीं है जिस पर सहमिति हो. सरकार ने प्रॉविडेंट फंड के आंक़ड़े के जरिरये साबित करना चाहता कि सितंबर 2017 और फरवरी 2018 के बीच ही 31 लाख नई नौकरियां पैदा की गई हैं. लेकिन सरकार के इस दलील लोगों को सहमत नहीं कर पाई. यह भी साफ है कि इकनॉमी में मैन्यूफैक्चरिंग की हिस्सेदारी बढ़ाने की सरकार की कोशिश नाकाम रही है.

ग्राफिक्स – ब्लूमबर्ग क्विंट 

स्रोत : ब्लूमबर्ग क्विंट

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 24, 2018
jobs-shimla_1458136636.jpeg

1min00


सरकारी नौकरी की राह देख रहे युवाओं के लिए सुनहरा मौका है। बस क्लिक कर जानिए कैसे अप्लाई करें…

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 24, 2018
2018_5image_12_29_004340000472-ll.jpg

3min00


  • Aries (मेष)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Taurus (वृषभ)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Gemini (मिथुन)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Cancer (कर्क)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Leo (सिंह)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Virgo (कन्या)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Libra (तुला)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Scorpio (वृश्चिक)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Sagittarius (धनु)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Capricorn (मकर)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Aquarius (कुंभ)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Pisces (मीन)

    गुरुवार के साथ गंगा दशहरा का शुभ योग, ये राशियां होंगी मालामाल बताएंगे आचार्य कमलनंद लाल…Read more

  • Let’s block ads! (Why?)



    Source link


    SunnyMay 24, 2018
    guest_teacher_2843832_835x547-m.jpg

    2min10


    टीचर लाइन में अपना करियर चुनने वाला अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी है। कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, समस्तीपुर ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गेस्ट टीचर के रिक्त पड़े कुल 214 पदों को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार निर्धारित प्रारूप में अपना आवेदन भरकर 4 जून 2018 तक भेज सकते हैं। आवेदन करने वाले उम्मीदवार की उम्र सीमा 21 से 65 वर्ष होनी चाहिए।

    भर्ती से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां

    पदों का विवरण

    पद नाम: गेस्ट टीचर

    कुल रिक्त पदों की संख्या: 214 पद

    अंग्रेजी- 41 पद

    फिजिक्स- 41 पद

    केमिस्ट्री – 46 पद

    मैथ्स- 38 पद

    जूलॉजी – 10 पद

    बॉटनी- 38 पद

    आवेदन जमा कराने की आखरी तारीख: 4 जून 2018

    गेस्ट टीचर के पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार की आयु सीमा: गेस्ट टीचर के अप्लाई करने वाला उम्मीदवार कम से कम 21 वर्ष और अधिकतम 65 वर्ष का होना चाहिए।

    गेस्ट टीचर के पद के लिए शैक्षणिक योग्यता: गेस्ट टीचर के पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता जानने के लिए नीचे दिए लिंक विज्ञप्ति के लिंक पर क्लिक करें।

    इस पते पर करें आवेदन
    इच्छुक आैर योग्य उम्मीदवार जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, माध्यमिक शिक्षा,शिक्षा भवन (प्रथम तल) काशीपुर, समस्तीपुर पिन – 848101 पते पर आवेदन कर सकते हैं।

    भर्ती में आरक्षित आैर गैर आरक्षित कोटि के महिलाआें को 35 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण दिया जाएगा। इसके अलावा दिव्यांगों को भी सरकारी नियमानुसार आरक्षण दिया जाएगा।

    आवेदन के साथ इन दस्तावेजों को करें संलग्न
    -उम्मीदवार सभी प्रकार के शैक्षणिक आैर प्रशैक्षणिक डिग्रियों के अंकपत्र आैर प्रमाणपत्रों की प्रतिलिप संलग्न करें।
    – आरक्षण श्रेणी से संबंधित प्रमाणपत्र की काॅपी साथ में लगाएं।
    – खुद की तीन कलर फोटो स्वअभिप्रमाणित
    – एक लिफाफा जिस पर 40 रुपए का डाक टिकट लगा हो।

    कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, समस्तीपुर ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गेस्ट टीचर भर्ती से संबंधित और अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें। लेकिन ध्यान रहे सभी अभ्यर्थी अपने आवेदन निर्धारित प्रारूप में भरकर 4 जून 2018 तक उपर दिए गए पते पर भेज दें।

    डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

    Let’s block ads! (Why?)



    Source link


    SunnyMay 23, 2018
    recruitment-job-vacancy_650x400_71521362597.jpg

    1min00



    नई दिल्ली: पावर सिस्टम ऑपरेशन कॉर्पोरेशन लिमिटेड (POSOCO) ने अपने यहां खाली पदों पर भर्तियां निकाली हैं. 64 पदों पर निकली इन भर्तियों के इच्छुक उम्मीदवार ऑनलाइन भी आवेदन कर सकता है. आवेदन करने की अंतिम तारीख 27 जून 2018 है. पद और योग्यता से जुड़ी अन्य जानकारी नीचे दी गई है….

    इन पदों पर निकली हैं भर्तियां- विभाग ने जिन पदों पर भर्तियां निकाली हैं उनमें एग्जीक्यूटिव ट्रेनी इलेक्ट्रिकल (45 पद) और एग्जीक्यूटिव ट्रेनी कंप्यूटर साइंस (19 पद) शामिल हैं. 

    यह भी पढ़ें: 44 पदों पर निकली हैं भर्तियां, घर बैठे ही कर सकते हैं आवेदन 

    इतनी होनी चाहिए योग्यता– विभाग द्वारा निकाली इन भर्तियों के लिए इच्छुक उम्मीदवारों का बीई और बीटेक किया होना जरूरी है. 

    इस आधार पर होगा चयन- उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर होगा. 

    यह भी पढ़ें:  9,739 पदों पर निकाली गई बंपर भर्तियां, 10वीं पास भी कर सकते हैं आवेदन 

    टिप्पणियां

    इतना मिलेगा वेतन- इन पदों के लिए चुने जाने वाले उम्मीदवारों को 24,900 से 50,500 रुपये के बीच वेतन मिलेगा. 

    इतना देना होगा आवेदन शुल्क- सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को आवेदन शुल्क के रूप में 500 रुपये देना होगा जबकि अन्य वर्ग के लिए कोई आवेदन शुल्क नहीं है. 

    Let’s block ads! (Why?)



    Source link


    SunnyMay 23, 2018
    job_1522837964.jpeg

    1min00


    यहां 23 मई यानी बुधवार को युवाओं के पास नौकरी पाने का सुनहरा अवसर है। जिला सेवायोजन कार्यालय/मॉडल कैरिअर सेंटर में 23 मई को रोजगार भर्ती मेले का आयोजन किया जा रहा है।
     

    Let’s block ads! (Why?)



    Source link


    SunnyMay 23, 2018
    anna-university_2839483_835x547-m.png

    2min10


    Technician, Project associate recruitment 2018, अन्ना यूनिवर्सिटी ने प्रोजेक्ट टेक्निशियन एवं प्रोजेक्ट एसोसिएट के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक व याेग्य उम्मीदवार निर्धारित प्रारूप के तहत 1 जून 2018 तक या इससे पहले आवेदन कर सकते हैं।आवेदन आैर अन्य जानकारी के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना विवरण लिंक पर क्लिक करें।

    अन्ना यूनिवर्सिटी में रिक्त पदों का विवरण:

    प्रोजेक्ट टेक्निशियन

    प्रोजेक्ट एसोसिएट-I

    प्रोजेक्ट एसोसिएट-II

    अन्ना यूनिवर्सिटी में रिक्त पदों पर आवेदन करने के लिए शैक्षणिक योग्यता:

    प्रोजेक्ट टेक्निशियन- मेकेनिकल/पेट्रोकेमिकल में डिप्लोमा एवं फिटर, इलेक्ट्रिकल, प्लंबिंग में आईटीआई।

    प्रोजेक्ट एसोसिएट-I- मेकेनिकल/सिविल इंजीनियरिंग में बीई होना आवश्यक है।

    प्रोजेक्ट एसोसिएट-II- एमई/एमटेक या थर्मल/एनर्जी/सोलर में पीएचडी होना आवश्यक है।

    आवेदन कैसे करें:

    योग्य उम्मीदवार निर्धारित प्रारूप के तहत 1 जून 2018 तक अपना आवेदन डॉ. ई नटराजन प्रोफेसर इंस्टीटयूट फॉर एनर्जी स्टडीज अन्ना यूनिवर्सिटी चेन्नई- 600025 के पते पर भेज सकते हैं।

    महत्वपूर्ण तिथि:

    आवेदन की अंतिम तिथि- 1 जून 2018

    Technician, Project associate recruitment 2018ः

    अन्ना यूनिवर्सिटी में प्रोजेक्ट टेक्निशियन एवं प्रोजेक्ट एसोसिएट के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

    डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

    Let’s block ads! (Why?)



    Source link


    SunnyMay 23, 2018
    epfo_650x400_61525333766.jpg

    1min00



    नई दिल्ली: देश में इस साल के अंत तक तीन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं और अगले साल इस लोकसभा का कार्यकाल भी पूरा हो रहा है. ऐसे में रोजगार के सृजन को लेकर राजनीति हो रही है. दावे किए जा रहे हैं और उन्हें काटा भी जा रहा है. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के रोजगार आंकड़ों के अनुसार मार्च तक समाप्त सात माह की अवधि में 39.36 लाख नए रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ है. ताजा आंकड़़ों के अनुसार मार्च में 6.13 लाख नए रोजगार का सृजन हुआ. यह फरवरी की तुलना में अधिक है. फरवरी में 5.89 लाख नए रोजगार के अवसर पैदा हुए थे. 

    आंकड़ों के पता चलता है कि इनमें से आधी नौकरियां विशेषज्ञ सेवा खंड में सभी आयु वर्ग में पैदा हुईं. जिन क्षेत्रों में उल्लेखनीय रूप से रोजगार पैदा हुए उनमें इलेक्ट्रिक, मेकेनिकल या सामान्य इंजीनियरिंग उत्पाद शामिल हैं. इसके बाद भवन एवं निर्माण उद्योग, ट्रेडिंग और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान और कपड़ा शामिल हैं. 

    पढे़ं- प्रोविडेंट फंड का पोर्टल हैक, 2.7 करोड़ लोगों का डेटा चोरी

    आंकड़ों से स्पष्ट है कि संगठित क्षेत्र में जो रोजगार सृजित हुए उनमें से आधी नौकरियां महाराष्ट्र , तमिलनाडु और गुजरात में पैदा हुईं. ईपीएफओ द्वारा रोजगार आंकड़ों का पहला सेट पिछले महीने जारी किया गया था. कुछ विशेषज्ञों ने हालांकि आंकड़ों के आधार पर रोजगार सृजन पर संदेह जताया है. उनका कहना है कि इन आंकड़ों से रोजगार सृजन की सही तस्वीर का पता नहीं चलता है क्योंकि इसमें कर्मचारियों द्वारा नौकरियों में बदलाव को भी शामिल किया गया है. 

    पढ़ें – श्रम मंत्रालय वित्त वर्ष 2017-18 के लिए पीएफ पर देय ब्याज की दर इसी सप्ताह कर सकता है अधिसूचित

    टिप्पणियां

    ईपीएफओ ने ये आंकड़े अपलोड करते हुए कहा है कि हालिया महीनों के आंकड़े अस्थायी हैं. कर्मचारियों के रिकॉर्ड का अद्यतन एक सतत प्रक्रिया है. आगे के महीनों में इन्हें और अद्यतन किया जाएगा. 

    ईपीएफओ ने कहा कि यह आयु वर्ग के हिसाब से आंकड़ा सभी गैर शून्य योगदानकर्ताओं का है , जो संबंधित महीने में ईपीएफओ के तहत पंजीकृत हुए हैं. इन अनुमानों में अस्थायी कर्मचारी भी शामिल हो सकते हैं जो संभवत : पूरे वर्ष के लिए योगदान नहीं देंगे.

    Let’s block ads! (Why?)



    Source link


    SunnyMay 23, 2018
    epfo-2.jpg

    1min00


    ताजा आंकड़ों के अनुसार मार्च में 6.13 लाख नए रोजगार का सृजन हुआ. यह फरवरी की तुलना में अधिक है. फरवरी में 5.89 लाख नए रोजगार के अवसर पैदा हुए थे.

    कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के रोजगार आंकड़ों के अनुसार मार्च तक समाप्त सात माह की अवधि में 39.36 लाख नए रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ है. ताजा आंकड़ों के अनुसार मार्च में 6.13 लाख नए रोजगार का सृजन हुआ. यह फरवरी की तुलना में अधिक है. फरवरी में 5.89 लाख नए रोजगार के अवसर पैदा हुए थे.

    आंकड़ों के पता चलता है कि इनमें से आधी नौकरियां विशेषज्ञ सेवा खंड में सभी आयु वर्ग में पैदा हुईं. जिन क्षेत्रों में उल्लेखनीय रूप से रोजगार पैदा हुए उनमें इलेक्ट्रिक , मेकेनिकल या सामान्य इंजीनियरिंग उत्पाद शामिल हैं. इसके बाद भवन एवं निर्माण उद्योग, ट्रेडिंग और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान और कपड़ा शामिल हैं.

    आंकड़ों से स्पष्ट है कि संगठित क्षेत्र में जो रोजगार सृजित हुए उनमें से आधी नौकरियां महाराष्ट्र , तमिलनाडु और गुजरात में पैदा हुईं. ईपीएफओ द्वारा रोजगार आंकड़ों का पहला सेट पिछले महीने जारी किया गया था. कुछ विशेषज्ञों ने हालांकि आंकड़ों के आधार पर रोजगार सृजन पर संदेह जताया है. उनका कहना है कि इन आंकड़ों से रोजगार सृजन की सही तस्वीर का पता नहीं चलता है क्योंकि इसमें कर्मचारियों द्वारा नौकरियों में बदलाव को भी शामिल किया गया है.

    ईपीएफओ ने ये आंकड़े अपलोड करते हुए कहा है कि हालिया महीनों के आंकड़े अस्थायी हैं. कर्मचारियों के रिकॉर्ड का अद्यतन एक सतत प्रक्रिया है। आगे के महीनों में इन्हें और अद्यतन किया जाएगा. ईपीएफओ ने कहा कि यह आयु वर्ग के हिसाब से आंकड़ा सभी गैर शून्य योगदानकर्ताओं का है, जो संबंधित महीने में ईपीएफओ के तहत पंजीकृत हुए हैं. इन अनुमानों में अस्थायी कर्मचारी भी शामिल हो सकते हैं जो संभवत : पूरे वर्ष के लिए योगदान नहीं देंगे.

    Let’s block ads! (Why?)



    Source link