Earn-Money Archives - Page 2 of 3 - earn money online hindi news: Sunnywebmoney.com

SunnyNovember 6, 2018
rashifal_3677192_835x547-m.jpg

1min110

वाराणसी. आज हम आपको उन 3 राशियों के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनको नवम्बर का महीना समाप्त होने से पहले कोई बड़ी खुशखबरी मिल सकती है। राशियां हमारे जीवन में बहुत महत्व रखती हैं। सिंह, तुला और मीन राशि वालों की आज किस्मत चमकने वाली है।

आज इन राशि वालों का दिन हर तरह से अनुकूल सिद्ध होगा। आज आप कोई भी नया कार्य शुरू कर सकते हैं। स्वास्थ्य अच्छा होगा। पूरा दिन हंसी मजाक और खुशनुमा माहौल में बीतेगा। सामाजिक मान-सम्मान और प्रतिष्ठा में बढ़ोत्तरी होगी।

निवेश करने के लिए आज का दिन बहुत उत्तम है। आपका शेयर मार्केट में निवेश करना लाभदायक होगा। नौकरी से जुड़ी कोई बड़ी गुड न्यूज़ आपकी प्रतीक्षा कर रही है। करियर नई ऊंचाइयों पर पहुंचेगा। घर में शांति का वातावरण रहेगा। कारोबार की नजर से दिन बेहद श्रेष्ठ होगा। धनागमन के स्रोत बढ़ेंगे। आप पर माता महालक्ष्मी की दयादृष्टि बनी हुई है। आज कोई ऐसा सौदा हो सकता है। जो आपके लिए करोड़ों का फायदा दिला सकता है।

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyNovember 5, 2018
su0602cf_pradeep_mishra_news_photo_3675852-m.jpeg

1min190

सूरत
टेक्सटाइल सेक्टर में भी कर्मचारियों के हित को प्राधान्य देने की शुरूआत हो चुकी है। इसी सोच के साथ लक्ष्मीपति ग्रुप में भी सोमवार को उनके यहां काम करने वाले कर्मचारियों के लिए स्नेहमिलन समारोह का आयोजन किया गया।

ग्रुप के एमडी संजय सरावगी ने बताया कि स्नेहमिलन का मुख्य आशय कर्मचारियों के परिवारजनों को बताना है कि उनके स्वजन यहां क्या काम करते हैं, किस तरह से वह दिन भर महेनत कर अपने परिवारजनों के लिए पैसे कमाते हैं। इसके अलावा ऐसे आयोजन से कर्मचारियों के परिवारजनों को कंपनी और उनके संचालकों के बारे में जानने को मिलता है। इसमें कर्मचारी और उनके परिवारजन एकत्रित होते हैं और उनके बीच भाईचारा बनता हैं। एक दूसरे को जानने पहचानने का मौका मिलता है। साल भर काम करने वाले श्रमिक को यदि इस तरह से प्रोत्साहित किया जाए तो उसका प्रदर्शन और सुधरता है। स्नेहमिलन के दौरान लगभग 3000 लोग उपस्थित रहें। कर्मचारियों के लिए यहां खानपान के साथ मनोरंजन की भी व्यवस्था की गई थी।

कपड़ा बाजार में बुधवार से दिवाली वेकेशन
सूरत
कपड़ा बाजार में ऐसे तो धनतेरस से ही कई व्यापारी पुजा के बाद दिवाली वेकेशन पर चले गए, और जो बचे हैं वह अब बुधवार से दिवाली वेकेशन करेंगे। इस बार दिवाली पर व्यापार कम रहने से व्यापारी निराश हैं। दिवाली वेकेशन के बाद व्यापारी लग्नसरा की बिक्री की तैयारी में जुट जाएगें
फोस्टा की ओर से 12 नवंबर तक दिवाली वेकेशन रखने की सूचना सभी मार्केट एसोसिएशन को दी गई है। व्यापारियों का कहना है कि भले ही फोस्टा की ओर से 12 नवंबर तक दिवाली वेकेशन की सूचना दी गई है लेकिन कपड़ा बाजार में मंदी की परिस्थिति को देखते हुए दिवाली वेकेशन लंबा चलने की संभावना है। इस बार दिवाली पर व्यापार कम रहने से व्यापारी निराश हैं। दिवाली वेकेशन के बाद व्यापारी लग्नसरा की बिक्री की तैयारी में जुट जाएगें।

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyNovember 5, 2018
180511044056.jpg

1min260

अब घर बैठे पैसा कमाना हुआ आसान, 5 ऐप्स के जरिए ऐसे करें कमाई

Edited by: Shivani

Updated: 05 Nov 2018 | 04:40 PM

हर इंसान पैसा कमाना चाहता है। इसके लिए लोग दर-दर नौकरी के लिए भटकते हैं। मगर फिर भी नौकरी नहीं मिल पाती है। कुछ लोग इसलिए नौकरी नहीं कर पाते हैं क्योंकि इसके लिए घंटों का सफर कर काम पर पहुंचना होता है। ऐसे में अगर घर बैठे पैसा कमाने का ऑफर मिले तो इसे हर कोई करना चाहेगा। आजकल प्ले स्टोर पर ऐसे बहुत सारे एप हैं जिनके जरिए आप घर बैठे पैसे कमा सकते हैं। आज हम ऐसी ही ऐप के बारे में बताने जा रहे हैं।

लोको एप
इस गेमिंग एप का पूरा नाम ‘लोको लाइव ट्रिविया एंड क्विज गेम शो’ है। इसे प्ले-स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। गेम में रोजाना 15-15 मिनट के दो लाइव क्विज सेशन होते हैं जिनका टाइम रात के 10 बजे और दिन में 1.30 बजे का है। क्विज के दौरान यूजर से कुल 10 सवाल पूछे जाते हैं, सारे सवालों के सही जवाब देने के बदले में उसे पेटीएम कैश मिलता है।क्विज में करेंट अफेयर, सामान्य ज्ञान, तकनीक, क्रिकेट, खेल, धर्म, राजनीति और बॉलीवुड जैसे विषयों पर आधारित सवाल पूछे जाते हैं। इसके अलावा इस एप को दोस्तों के साथ शेयर पर कुछ अतिरिक्त पैसे भी मिलते हैं। अच्छी बात यह है कि लोको एप हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है। गेम में पेटीएम कैश प्राइज की राशि 500 रुपए से शुरू होती है, जोकि एक ही समय पर क्विज खेलने वालों की गिनती के मुताबिक़ बढ़ा दी जाती है।

मीशो एप
यह ऐसा एप है जिसमें आप को रीसेलर बनाया जाता है और आपको मीशो के उत्पादों को आगे अपने कस्टमर्स को बेचना होता है। हर उत्पाद का एक ‘रिफरल लिंक’ होता है जिसे यूजर को अपने वाट्सएप और फेसबुक कांटेक्ट से शेयर करना होता है। लिंक के जरिए बिक्री होने पर आपको तय कमीशन दिया जाता है। अगर आप कोई प्रोडक्ट बिकवाते हैं तो उसपर आपको अपना मार्जिन ऐड करने के बाद उसे सेल करना होगा। उदाहरण के तौर पर अगर आपने एक टी-शर्ट 250 रुपए में बेची जिसका वास्तविक मूल्य 100 रुपए और डिलीवरी चार्ज 70 रुपए है। तो आपको बतौर मार्जिन 80 रुपए आपके बैंक अकाउंट मे दिए जाएंगे। मार्जिन के अलावा आप मीशो से बोनस भी कमा सकते हैं। 2000 रुपए की बिक्री करवाने पर चार फीसदी, 5000 रुपए की बिक्री पर छह फीसदी, 10 हजार रुपए पर आठ फीसदी, 20 हजार रुपए पर 10 फीसदी और 50 हजार रुपए की बिक्री पर 12 फीसदी तक बोनस मिल सकता है।

ड्रीम इलेवन
ड्रीम इलेवन से हर रोज कई लोग लाखों रुपए जीतते हैं। जब आप इस एप को डाउनलोड कर रजिस्टर कर लेते हैं तो एप में हाल में होने वाले मैचों की एक लिस्ट (तारीख के हिसाब से) खुल जाती है। इसके बाद आपको अपने मन-मुताबिक मैच सेलेक्ट करना होता है। उस मैच को ज्वाइन करने की एक कीमत तय होती है, जोकि आपको ऑनलाइन देनी होती है। इसके बाद आपको उस मैच की दोनों टीमों को मिलाकर 11 खिलाड़ी चुनने होते हैं, जो आपको उस मैच में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले लगते हों। अब चुने हुए 11 खिलाड़ियों में से एक को कप्तान और एक को उपकप्तान बनाना होता है। मैच शुरू होने के बाद जो खिलाड़ी जैसा प्रदर्शन करेगा उसी हिसाब से आपको प्वॉइंट मिलते जाएंगे। अगर आपके कप्तान और उपकप्तान चल निकलते हैं तो आपके प्वॉइंट तेजी से बढ़ेंगे। मैच खत्म होने के बाद आप अपने रैंक के हिसाब से लाखों रुपए जीत सकते हैं।

कीटू एप
यह एप अलग-अलग ब्रैंड्स को एक ऐड प्लैटफॉर्म से जोड़ देता है। इस एप में विभिन्न ब्रांड्स के विज्ञापन दिखाए जाते हैं और इन विज्ञापनों को देखने पर यूजर को पैसे मिलते हैं। एप इंस्टॉल करने पर यह आपको विज्ञापन देखने के लिए नोटिफिकेशन भेजता है। विज्ञापनों को देखने पर आपके कीटू अकाउंट में एक रुपया प्रति विज्ञापन जुड़ जाता है। यह एप आपके पेटीएम और मोबिक्विक वॉलेट्स से लिंक्ड होता है, जहां आप एप से कमाए गए कैश को रिडीम कर सकते हैं।

क्वाई एप
एप के जरिए पैसा कमाने के मामले में क्वाई एप काफी चर्चा में रहा है। इस समय इस एप को इस्तेमाल करने वालों की संख्या लगभग एक करोड़ पहुंच चुकी है। इस एप में आप सिर्फ वीडियो डाल कर पैसा कमा सकते हैं। इस एप में बनाए जाने वाले वीडियो की लिमिट सिर्फ 15 सेकेंड होती है। वीडियो बना कर डालने के दो से तीन घंटों के अन्दर आपको कॉइन मिलता है। ध्यान देने वाली बात कि क्वाई एप डॉलर में पैसे देता है, क्वाई एप में आपको 100 कॉइन के ए डॉलर यानी 74 रुपए मिलेंगे। एक डॉलर से ऊपर का अमाउंट होने पर इसे अपने पेपैल अकाउंट में डाल सकते हैं। इस एप में वीडियो डाल कर पैसा कमाने के अलावा बीच-बीच में एक कॉन्टेस्ट भी होता है, अगर आप उस कॉन्टेस्ट में जीत जाते हैं तो आपको इनाम मिलता है। हालांकि, क्वाई एप में आप सिर्फ अपने ही कैमरे से वीडियो बना कर डाल सकते हैं, अगर आप किसी और का वीडियो डालते हैं तो आपकी अर्निंग नहीं होगी।

रोचक विडियो को रोज देखने के लिए हमारे चैनल thinkerspot को subscribe करें।

मोबाइल पर रोचक खबरों को फ्री में पढ़ने के लिए हमारे हिंदी खबर के ऐप को मुफ्त में डाउनलोड करें, किल्क हेयर-

https://play.google.com/store/apps/details?id=net.mbiztech.hindikhabar&showAllReviews=true

अगर आपके पास कोई अच्छा वीडियो या ख़बर हैं तो आप हमारे WhatsApp नंबर पर भेज सकते हैं। धन्यवाद

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyNovember 5, 2018
youtube_3673728_835x547-m.jpg

1min160

YouTube का सबसे बड़ा फायदा यह है कि अब कोई भी इसपर सेलिब्रिटी बन सकता है। साथ में कमाई भी होती है। Forbes मैगजीन की ताजा सूची को देखें तो पाएंगे कि उन लोगों की भरमार है जो यूट्यूब पर वीडियो गेम्स खेलने के तरीके बताने वाले या बच्चों के खिलौने से जुड़े वीडियो डालकर तगड़ी कमाई कर रहे हैं। इनमें सबसे ऊपर हैं डेनियल मिडिलटन जो कि डेन टीडीएम नाम से मशहूर हैं।

ब्रिटेन के 26 वर्षीय डेन ने वर्ष 2017 में यूट्यूब से 1.65 करोड़ डॉलर (करीब 73 करोड़ रु.) कमाए। लेकिन हाल ही एक अध्ययन में कहा गया है कि यूट्यूब पर कमाई अब टेढ़ी खीर हो गई है। अध्ययन से जुड़े जर्मनी की एप्लाइड साइंसेज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर मेथिया बार्ल का कहना है कि यूट्यूब के सर्वाधिक देखे गए चैनल्स के 3.5 फीसदी स्लॉट में आने का मतलब है कि महीनेभर में कम से कम 10 लाख वीडियो व्यूज होने चाहिए। विज्ञापन आय की बात करें तो यह सालभर में 12 हजार से 16 हजार डॉलर (करीब साढ़े आठ लाख से ग्यारह लाख रु.) होगा। यूट्यूब क्रिएटर्स को लेकर यह अपनी तरह का पहला अध्ययन है।

उन्होंने पाया कि क्रिएटर्स के लिए टॉप में पहुंचना इसलिए भी मुश्किल हो गया है क्योंकि यूट्यूब खुद अब हर मिनट 300 घंटे के वीडियो डाल रहा है। वीडियो देखने वालों का औसत दस वर्ष पहले प्रति वीडियो 10,262 था जो 2016 में घटकर मात्र 89 रह गया था। इसी तरह शीर्ष के तीन प्रतिशत चैनल्स को जहां 2006 में ऑल व्यूज में से 64 फीसदी व्यूज मिल रहे थे जो दस वर्षों में बढक़र 90 फीसदी हो गए। म्यूजिक वीडियो की बात करें तो गाने अपलोड करने में कोई दिक्कत नहीं है लेकिन श्रोता मिलना मुश्किल है।

यों होती है कमाई मार्केट रिसर्च फर्म नीलसन के मुताबिक पिछले साल यूट्यूब पर जारी 86 फीसदी म्यूजिक वीडियो में से मात्र एक फीसदी से भी कम कामयाब हुए। इन वीडियो से कमाई के लिए जरूरी है कि लाखों बार इन्हें सुना जाए। विवाद होने पर बड़े स्टार लोगान पॉल के चैनल्स पर यूट्यूब ने विज्ञापन बंद कर दिए थे। वीडियो गेम्स के बारे में बताने वाले प्यूडीपाई (फैलिक्स कैलबर्ग) जैसे स्टार को नस्लीय विवाद पर गूगल ने अपनी एश्�ँ सर्विस से उन्हें हटा दिया था।

इसलिए मुश्किल हुई कमाई
यूट्यूब के नए नियमों के मुताबिक चैनल्स को 12 महीनों में एक बजार सब्सक्राइबर्स और चार हजार घंटे का वॉच टाइम होने पर पर ही विज्ञापनों से कमाई के योग्य माना जाएगा। यूट्यूब का कहना है कि यह बदलाव आपत्तिजनक व आक्रामकता वाले वीडियो को हतोत्साहित करने के लिए है। यूट्यूब चैनल्स में एंटरटेनमेंट वीडियो की श्रेणी में ऑल व्यूज का 24 फीसदी हिस्सा आता है। इसके बाद म्यूजिक व गेमिंग का नंबर आता है।

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyNovember 5, 2018
earn-online.jpg

1min110

दुनिया में दो तरह के लोग हैं। पहले वो, जिनकी मूलभूत ज़रूरतें रोटी, कपड़ा और मकान हैं। दूसरे वो, जिनकी मूलभूत ज़रूरतें रोटी, कपड़ा, मकान और इंटरनेट हैं। पैसा कमाने के लिए दोनों ही तरह के लोग असल दुनिया में उतरते हैं। ऑफलाइन। पर इसके आगे भी तो कुछ आएगा न! आया। लोग इंटरनेट से भी पैसे कमाने लगे। यह वोडाफोन, एयरटेल और जियो जैसी कंपनियों की बात नहीं हो रही है। हमारे आसपास लोग अपने कमरों में बैठकर अपने हुनर और चालाकी भर का कमा रहे हैं।

आइए जानें कौन से वो काम हैं, जिनसे ऑनलाइन पैसा कमाया जा रहा है।

#1. फ्रीलांसिंग

किसी भी सर्विस की हो सकती है। आप इंटरनेट पर डेटा एंट्री से लेकर सर्वे करने और किसी प्रॉडक्ट को टेस्ट करने जैसा कोई भी काम कर सकते हों, तो आपको काम मिल जाएगा। आपके पास जो भी स्किल हो, अगर इंटरनेट पर किसी को उसकी ज़रूरत है, तो आप पांच से दस हज़ार रुपए तक कमा सकते हैं। Outfiverr.com, upwork.com, freelancer.com और worknhire.com जैसी वेबसाइट्स पर आपको काम मिल सकता है। लेकिन पैसा, काम पूरा होने और क्लाइंट के अप्रूव करने के बाद ही मिलता है। कई बार एक ही काम में क्लाइंट के मन-मुताबिक सुधार भी करने पड़ते हैं।

#2. खुद की वेबसाइट

देखिए वेबसाइट बनाना अब कोई मुश्किल काम नहीं रह गया है। आप पैसा देकर बनवा सकते हैं और एफर्ट मारकर खुद भी बना सकते हैं। अगर आप विज़िटर्स को कुछ बेच रहे हैं और आपकी वेबसाइट पर विज़िटर्स लगातार आ रहे हैं, तो गूगल ऐडसेंस से आप कमाई कर सकते हैं। जितने ज़्यादा लोग वेबसाइट पर आएंगे, उतने ज़्यादा पैसे मिलेंगे।

#3. एफिलिएट मार्केटिंग (आपस में धंधा करना)

मान लीजिए आप वेबसाइट चला ले गए, तो आप दूसरी कंपनियों की वेबसाइट पर अपने वेब लिंक दे सकते हैं। अगर कोई विज़िटर ऐसे लिंक से कोई सर्विस या प्रॉडक्ट खरीदता है, तो इससे आपको पैसा मिलेगा।

#4. सर्वे, रिसर्च या रिव्यू करना

कई वेबसाइट ऑनलाइन सर्वे भरने, रिसर्च करने और प्रॉडक्ट्स के रिव्यू लिखने के लिए पैसे देती हैं। काम करने पर पैसा आपके खाते में आएगा। यहीं पर सावधान रहने की ज़रूरत है। आप उनके साथ अपनी बैंक डीटेल्स शेयर करते हैं, तो आपको वेबसाइट की प्रतिष्ठा के मुताबिक ऐक्शन लेना होता है। कई बार काम दिलाने वाले कुछ रकम दबा लेते हैं।

#5. वर्चुअल असिस्टेंटशिप (किसी का ऑनलाइन काम संभालना)

मान लीजिए कोई भला आदमी बड़ा आदमी भी है। उसके पास अपने ऑनलाइन तामझाम के लिए समय नहीं है। तो वह एक वर्चुअल असिस्टेंट रख लेगा। ऐसे में ज़रूरी नहीं कि असिस्टेंट उस क्लाइंट के साथ ही रहे। वह कहीं से भी इंटरनेट के ज़रिए काम संभाल सकता है। आप किसी के लिए कर्मचारी की तरह काम कर सकते हैं या खुद का बिजनेस भी सेटअप कर सकते हैं।

#6. अनुवाद (ट्रांसलेशन)

भारत के लोगों की एक ताकत भाषा भी है। बतौर मुल्क, हमारे पास बहुत सारी भाषाएं हैं और उनका इस्तेमाल करने वाले बहुत सारे लोग हैं। इंटरनेट पर आने वाला ज़्यादातर काम इंग्लिश में होता है। दक्षिण भारत में अंग्रेज़ी बोलना आम है, लेकिन उत्तर भारतीय इस पर मेहनत करते हैं। नतीजा यह निकलता है कि किसी भी लेख, प्रेस रिलीज़ या किताब का ट्रांसलेशन किया जा सकता है। अंग्रेज़ी से भारतीय भाषाओं में और भारतीय भाषाओं का अंग्रेज़ी अनुवाद… दोनों तरह के काम किए जा सकते हैं। अंग्रेज़ी के बाद जो मार्केट बचता है, उसमें स्पैनिश, फ्रेंच, अरब और जर्मन जैसी भाषाएं आती है। Freelancer.in, Fiverr.com, worknhire.com और Upwork.com देखी जा सकती हैं।

#7. ऑनलाइन ट्यूशन (इंटरनेट वाले मास्टर जी)

मान लीजिए आप किसी विषय में ज्ञानी हैं, तो यह अच्छी बात है, क्योंकि दुनिया में आबादी इतनी है कि हर तरह का ज्ञान लेने वाला आदमी बैठा है। आप इंटरनेट पर ज्ञान बांटना शुरू कर दीजिए। आपकी वजह से बोर्ड का एग्ज़ाम दे रहे किसी स्टूडेंट का भी भला हो सकता है और कहीं खो जा रहा व्यक्ति लौटकर भी आ सकता है। सही वेबसाइट पर ज्ञान बांट रहे होंगे, तो पैसे भी कमाएंगे। यूट्यूब तो बहुत सही जगह है। Vedantu.com, MyPrivateTutor.com, BharatTutors.com और tutorindia.net भी देखे जा सकते हैं।

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyNovember 3, 2018
stock-market.jpg

1min100

शेयर बाज़ार। किसी को पैसों के शिखर पर बिठाने वाला, तो किसी को रंक बनाने वाला। किसी के लिए बहुत लुभावना, तो किसी के लिए अस्तित्व ही नहीं रखता। किसी के दिमाग में सिर्फ यही चलता है और किसी को समझ में ही नहीं आता। यही फर्क है शेयर मार्केट में कूद-फांद मचाने और न मचाने वालों में। अपने देश की आबादी ध्यान में रखकर सोचिए कि पैसा कमाने के मकसद से शेयर मार्केट में कूदने वाले ये लोग किस जद्दोजहद में रहते हैं।

कुछ सब्र को सबसे बड़ा हथियार मानते हैं, कुछ समय भांप लेते हैं और कुछ मेहनत से बाकी दोनों की अहर्ता कम कर देते हैं। ये तीसरे तरह के लोग वो हैं, जो डेली बेसिस पर शेयर खरीदते और बेचते हैं। ढेर सारे ट्रांज़ैक्शन करते हैं, मार्केट के उतार-चढ़ाव पर निगाह लगाए रहते हैं और किसी शेयर पर 10 से 15 रुपए भी फायदा होने पर उसके शेयर बेच देते हैं।

इसे यूं कह सकते हैं कि कई बरसों से शेयर मार्केट में इंगेज रहे कुछ एक्सपर्ट मानते हैं कि आम निवेशकों में सब्र बहुत कम होता है, जिसकी वजह से वो बड़ी कमाई नहीं कर पाते हैं। इनके मुताबिक शेयर बाज़ार में बहुत सोच-समझकर और लंबे समय के लिए निवेश करना चाहिए। कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो किसी कंपनी के शेयरों को बरसों तक भले अपने पास न रखें, लेकिन दो-तीन साल में बेचकर ठीक-ठाक मुनाफा कमा रहे हैं।

फिर वो लोग आते हैं, जो शेयर मार्केट से रोजाना कमाना चाहते हैं। ऐसे लोग किसी एक कंपनी के कुछ शेयर खरीदते हैं और फिर जैसे ही उनकी कीमत में थोड़ा सा उछाल आ जाता है, वो उन्हें बेच देते हैं। ऐसे ट्रांजैक्शन्स में शेयर खरीदने और बेचने के बीच कुछ घंटे या एक दिन का फर्क होता है। चूंकि इस तरह से शेयर कमाने वाले बैठे हैं, तो शेयर बेचने वाले भी बैठे हैं। सबका काम चल रहा है।

तो अगर आप भी शेयर मार्केट से रोजाना रुपए कमाने चाहते हैं, तो इस फंडे को अपनाकर देख सकते हैं। कुछ सौ या हज़ार रुपए रोज़ाना कमाई के लिए इतनी बुद्धि और समय तो लगाना होगा।

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyOctober 17, 2018
mail.svg

3min440


हर किसी का सपना होता है कि पढ़-लिख कर एक अच्छी सी नौकरी मिल जाए. कुछ स्टूडेेंट्स पढ़ाई के दौरान भी नौकरी करना चाहते हैं. जिससे वो पढ़ाई खत्म होने के बाद आने वाली स्ट्रगल के लिए खुद को तैयार कर सकें या अपना खर्चा खुद चलाने लायक हो जाएं.

ऐसे युवाओं के लिए अब नौकरी करने के तमाम विकल्प खुल गए हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे ही नौकरी विकल्पों के बारे में बताने जा रहे हैं. जिन्हें कर आप पढ़ाई के दौरान भी अच्छी कमाई कर सकते हैं. यही नहीं पार्ट टाइम नौकरी कर आप अनुभव भी हासिल कर सकते हैं.

कंटेंट राइटर

टीवी और फिल्मों के बढ़ने के साथसाथ कंटेंट राइटर की डिमांड भी लगातार बढ़ रही है. घर बैठे ही आप दोतीन घंटे कंटेंट राइटिंग का काम कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं.

कंटेंट एडिटर

आजकल इंटरनेट पर कई सी ऐसी वेबसाइट्स हैं जहां कंटेंट को पोस्ट करने से पहले एक एडिटर की जरूरत होती है, जो भाषा की कमियों और गलतियों को सुधार सकें. अगर आपकी किसी भाषा पर अच्छी पकड़ है तो ये काम आप आसानी से कर सकते हैं.

सोशल मीडिया असिस्टेंट

आज के समय में सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव की वजह से इस जॉब काफी डिमांड है. इसके ज़रिए आप कंपनियों के सोशल मीडिया अकाउंट को संभालते हैं और उनके कंटेंट को मैनेज भी करते हैं. इस काम के लिए आपको पूरा दिन भी नहीं चाहिए और पैसे भी इतने मिल जाते हैं, जिससे आपके खर्चे आसानी से निकल जाएगा.

 

गेस्ट सर्विस कोऑर्डिनेटर

इस काम की जरुरत कई इंडस्ट्रीज में रहती है जैसे पर्यटन, होटल, इवेंट्स आदि. यहां आपको मेहमानों या क्लाइंट के साथ डील करने का काम करना होता है. उनकी समस्याएं सुलझाना और अपनी कंपनी की एक अच्छी छवि पेश करना होता है.

ऑनलाइन रिसर्चर

इस काम के लिए आप को जनरल नॉलेज यानि सामान्य ज्ञान पर तो पकड़ होनी चाहिए. साथ ही आपको रिसर्च करने का शौक भी होना चाहिए. यहां आपको उन बिजनेस हाउस के लिए काम करना होता है जिनके बड़े एग्जीक्यूटिव्स के पास खुद रिसर्च करने समय नहीं होता.

ये भी पढ़ें- दीवाली से पहले मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, इतने सस्ते कीमतों पर मिलेगा इलेक्टॉनिक सामान

First published: 17 October 2018, 11:27 IST

Let’s block ads! (Why?)


Source link


SunnyAugust 28, 2018
file_1535453349.png

1min410

जॉब डेस्क, अमर उजाला
Updated Tue, 28 Aug 2018 05:12 PM IST

ख़बर सुनें

लखनऊ शहर स्थित हजरतगंज हनुमान मंदिर के निकट दो गार्बेज मशीन लगाई गई हैं। सूबे के शहरी विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने गार्बेज मशीन का उद्घाटन किया और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसका निरीक्षण किया। यह मशीन लखनऊ को साफ सुथरा बनाने के लिए काफी मददगार साबित हो सकती है। आपको बता दें, कि अगर  आप बेकार पड़े कचरे को कूड़े की मशीन में डालेंगे तो रिटर्न में मशीन से पैसा निकलेगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वच्छता के लिए कदम बढ़ाएं । सीएम ने कहा कि हर प्रकार के कूड़े की एक कीमत होती है। यह मशीन लोगों को उसके डाले गए कूड़े की उचित रकम को अदा करेगी।

 मशीन से जुड़ी खासियत
– मशीन में अलग-अलग कूड़े के लिए एक निश्चित राशि तय की गई है 
– मशीन में प्लास्टिक की एक बोतल डालने पर 1 रुपया मिलेगा 
– कांच की बोतल डालने पर 2 रुपए मिलेंगे 
– सभी रकम ई-वॉलेट के तहत कूड़ा डालने वाले व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर की जाएगी
 -वहीं यह मशीन आधार कार्ड की पहचान करेगी
– मशीन कूड़ा डालने वाले व्यक्ति की पहचान आसानी से कर सकेगी


आगे पढ़ें

Let’s block ads! (Why?)


Source link



Sunnywebmoney.Com


CONTACT US




Newsletter


Categories