24. May 2018 India92°F

Earn-Money Archives - Sunnywebmoney.com

SunnyMay 23, 2018
spaceball.gif

24min10



<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="Jennifer Lopez debuted her new song, “Dinero” with Cardi B and DJ Khaled, at the Billboard Music Awards, and her unapologetic demand for financial freedom has set the internet afire. ” data-reactid=”24″>Jennifer Lopez debuted her new song, “Dinero” with Cardi B and DJ Khaled, at the Billboard Music Awards, and her unapologetic demand for financial freedom has set the internet afire. 

Jennifer Lopez owns her love of money in her new song, “Dinero.” (Photo: Getty Images)

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="On Sunday night at the MGM Grand Garden Arena in Las Vegas, sporting a cash-inspired manicure, Lopez delivered an explosive song-and-dance routine, singing, “Yo quiero, yo quiero dinero, ay/I just want the green, want the money, want the cash flow” and “In love with the money so no need to mingle…”” data-reactid=”36″>On Sunday night at the MGM Grand Garden Arena in Las Vegas, sporting a cash-inspired manicure, Lopez delivered an explosive song-and-dance routine, singing, “Yo quiero, yo quiero dinero, ay/I just want the green, want the money, want the cash flow” and “In love with the money so no need to mingle…”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="Lopez wore a white, three-piece power suit that appeared to be a tribute to Michael Jackson but was likely a nod to his sister Janet Jackson, who accepted the Icon Award Sunday and, as Vogue pointed out, wore a striped suit in the music video for her 1989 hit “Alright.” ” data-reactid=”41″>Lopez wore a white, three-piece power suit that appeared to be a tribute to Michael Jackson but was likely a nod to his sister Janet Jackson, who accepted the Icon Award Sunday and, as Vogue pointed out, wore a striped suit in the music video for her 1989 hit “Alright.”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="On Twitter, Lopez drew comparisons to Rihanna and her 2015 song “B***h Better Have My Money,” which was rumored to detail the singer’s legal battles with a male accountant who mismanaged her finances in 2009, leaving her “effectively bankrupt.” And many praised the collaboration between Lopez and Cardi B, whose hit song “Bodak Yellow” includes the lyric “I make money moves” and who has been open about her love of Yves Saint Laurent and Manolo Blahnik goods.” data-reactid=”42″>On Twitter, Lopez drew comparisons to Rihanna and her 2015 song “B***h Better Have My Money,” which was rumored to detail the singer’s legal battles with a male accountant who mismanaged her finances in 2009, leaving her “effectively bankrupt.” And many praised the collaboration between Lopez and Cardi B, whose hit song “Bodak Yellow” includes the lyric “I make money moves” and who has been open about her love of Yves Saint Laurent and Manolo Blahnik goods.

<figcaption class="C($c-fuji-grey-h) Fz(13px) Py(5px) Lh(1.5)" title="Cardi B has rapped about her love of designer goods. (Photo: YouTube)” data-reactid=”50″ readability=”0.89855072463768″>

Cardi B has rapped about her love of designer goods. (Photo: YouTube)

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="Musicians aren’t the only ones making bold and public proclamations about desiring riches. In January, Grey’s Anatomy star Ellen Pompeo, the highest-paid actress on a primetime drama, told the Hollywood Reporter that her $20 million-a-year contract was a result of her realization at age 48 that “I’ve finally gotten to the place where I’m OK asking for what I deserve.”” data-reactid=”54″>Musicians aren’t the only ones making bold and public proclamations about desiring riches. In January, Grey’s Anatomy star Ellen Pompeo, the highest-paid actress on a primetime drama, told the Hollywood Reporter that her $20 million-a-year contract was a result of her realization at age 48 that “I’ve finally gotten to the place where I’m OK asking for what I deserve.”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="And author Jessica Knoll recently wrote an op-ed for the New York Times titled “I Want to Be Rich and I’m Not Sorry,” explaining: “Success, for me, is synonymous with making money. I want to write books, but I really want to sell books. I want advances that make my husband gasp and fat royalty checks twice a year. I want movie studios to pay me for option rights and I want the screenwriting comp to boot.”” data-reactid=”55″>And author Jessica Knoll recently wrote an op-ed for the New York Times titled “I Want to Be Rich and I’m Not Sorry,” explaining: “Success, for me, is synonymous with making money. I want to write books, but I really want to sell books. I want advances that make my husband gasp and fat royalty checks twice a year. I want movie studios to pay me for option rights and I want the screenwriting comp to boot.”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="Knoll’s new book, The Favorite Sister, is about two female contestants on a reality show called “Goal Diggers” who are “not supported by men at all.”” data-reactid=”56″>Knoll’s new book, The Favorite Sister, is about two female contestants on a reality show called “Goal Diggers” who are “not supported by men at all.”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="A cultural awakening has occurred over the past several years that might explain why women are becoming more emboldened about money, according to Chandra Childers, a senior research scientist at the Institute for Women’s Policy Research (IWPR). ” data-reactid=”57″>A cultural awakening has occurred over the past several years that might explain why women are becoming more emboldened about money, according to Chandra Childers, a senior research scientist at the Institute for Women’s Policy Research (IWPR). 

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="“Women may be subconsciously responding to misogynistic themes in popular music that portray them as gold diggers,” Childers tells Yahoo Lifestyle. “For example, just listen to any Beyoncé song for messages of empowerment, which affects how women view themselves.”” data-reactid=”58″>“Women may be subconsciously responding to misogynistic themes in popular music that portray them as gold diggers,” Childers tells Yahoo Lifestyle. “For example, just listen to any Beyoncé song for messages of empowerment, which affects how women view themselves.”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="The #MeToo movement has also made an impact, she adds, with women stepping forward in the face of injustice and male control. In that regard, the wage gap is undeniable: Women make 80.5 cents for every male dollar earned, with a more dramatic gap for women of color, according to 2016 figures from the IWPR. “We’re now seeing more women advocate for raises, take negotiation workshops, and draw a line between earning an income and acquiring genuine wealth,” says Childers. ” data-reactid=”59″>The #MeToo movement has also made an impact, she adds, with women stepping forward in the face of injustice and male control. In that regard, the wage gap is undeniable: Women make 80.5 cents for every male dollar earned, with a more dramatic gap for women of color, according to 2016 figures from the IWPR. “We’re now seeing more women advocate for raises, take negotiation workshops, and draw a line between earning an income and acquiring genuine wealth,” says Childers. 

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="To Childers’s point, a survey of 70,000 people conducted by LeanIn.org and McKinsey & Co. found that while women are generally promoted less often than men, they’re just as eager to succeed and ask for promotions at similar rates. The results showed that women of color, despite experiencing more career roadblocks than their white co-workers, have higher ambitions to reach executive levels and are more entrepreneurial.” data-reactid=”60″>To Childers’s point, a survey of 70,000 people conducted by LeanIn.org and McKinsey & Co. found that while women are generally promoted less often than men, they’re just as eager to succeed and ask for promotions at similar rates. The results showed that women of color, despite experiencing more career roadblocks than their white co-workers, have higher ambitions to reach executive levels and are more entrepreneurial.

Driving this movement, says Childers, is a sense of injustice. “Many women who experience the gender wage gap are angry about it. They’re now asking for what they deserve.”

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="Read more from Yahoo Lifestyle:” data-reactid=”62″>Read more from Yahoo Lifestyle:

<p class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="Follow us on Instagram, Facebook, and Twitter for nonstop inspiration delivered fresh to your feed, every day.” data-reactid=”67″>Follow us on Instagram, Facebook, and Twitter for nonstop inspiration delivered fresh to your feed, every day.

<figure class="canvas-atom canvas-text Mb(1.0em) Mb(0)–sm Mt(0.8em)–sm" type="text" content="
” data-reactid=”68″>

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 23, 2018
1517751455-7001.jpg

1min00


The ‘why-work-hard-when-we-got-property’ syndrome, which had caught the fancy of Airports Authority of India (AAI) sometime in 2004, is now on the verge of becoming a full-blown reality. The Modi administration is planning to privatise at least seven airports across India – that’s almost half of all profit-making facilities operated by AAI.

Some reports suggest the government is evaluating prospects of privatising all the 15 profit-making airports under AAI’s control. The model would be the same as Delhi and Mumbai: 30-year lease of AAI airports and property, …

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 20, 2018
20_05_2018-20man05.jpg

1min20


Publish Date:Sun, 20 May 2018 11:01 PM (IST)

मैनपुरी : रविवार को जिले में विश्व मधुमक्खी दिवस मनाया गया। जिसमें किसानों को मधुमक्खी पालन के बारे में जानकारी दी गई। उद्यान अधिकारी कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्य विकास अधिकारी विजय प्रताप गुप्ता ने की। किसानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर किसानों की आय दोगुनी करनी है तो केवल खेती के सहारे नहीं रहना होगा। बल्कि खेती के साथ-साथ पशुपालन, मत्सय पालन और मधुमक्खी पालन को भी बढ़ावा देना होगा। उन्होंने बताया कि मधुमक्खी पालन बहुत ही आसान है। एक ओर जहां इसके लिए अधिक जगह की आवश्यकता नहीं होती है तो वहीं किसान आसानी से इसकी शुरुआत कर सकते हैं। जिला उद्यान अधिकारी सुरेंद्र ¨सह राजपूत ने बताया कि जिले में कई किसान मधुमक्खी पालन से अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। अधिक से अधिक किसान इससे जुड़कर मुनाफा कमा सकते हैं। इस दौरान रामबाबू यादव, माधव मिश्रा, रजत कुमार, सतीश कुमार, रमेश आदि मौजूद रहे।

(वि.)

By Jagran

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 17, 2018
mahie-gill_1525234506.jpeg

1min30


एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला
Updated Thu, 17 May 2018 02:50 PM IST

ख़बर सुनें

फिल्म ‘देव डी’ और ‘साहेब बीवी और गैंगस्टर’ जैसी फिल्मों से अपनी पहचान बनाने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस माही गिल ने अपने फिल्मी करियर को लेकर बड़ा बयान दिया है। पता हो कि वह जल्दी ही अपनी अपकमिंग फिल्म ‘फामोस’ में नजर आने वाली हैं। फिल्म की रिलीज से पहले माही ने कहा है- ‘मैं रुपए कमाना चाहती हुं लेकिन रुपए कमाने के लिए मैं कुछ भी नहीं कर सकती।’

अपनी बातों को विस्तार से बताते हुए कहा- ‘यह मुझे तय करना है कि कौन अच्छे लोग हैं या मुझे किस का काम करने का तरीका पसंद है।’ यह सभी बातें माही ने फिल्म ‘फोमोस’ पर बात करते हुए कही हैं। आपको बता दें कि फिल्म ‘फामोस’ में माही गिल के अलावा, जिम्मी शेरगिल, जैकी श्रॉफ, केके मेनन और पंकज त्रिपाठी भी नजर आएंगे। यह फिल्म क्राइम ड्रामा से भरपूर फिल्म है। फिल्म फामोस 18 मई को रिलीज होगी।  

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 16, 2018
untitled-5-1526457644.jpg

1min20


combodia

नामपेन्ह: कंबोडिया में एक महिला ने पैसे कमाने के लिए सभी हदें पार कर दी। अपने यू-ट्यूब चैनल पर कमाई करने के लिए ऐह लिन टुच नाम की महिला विलुप्त हो चुके जानवरों को मारकर खाती है और इसकी वीडियो को यू-ट्यूब पर पोस्ट करती हैं। इन वीडियो से टुच की अच्छी खासी कमाई होती है। अधिक पैसे कमाने के लालच में टुच ने एक खास प्रजाति की बिल्ली को भी मारकर खाया। रिपोर्टस की माने तो टुच ने सांप, मेंढक, जंगली पक्षी और कई समुद्री जीवों को पकाकर खाया और इनके वीडियो को भी अपने यू-ट्यूब चैनल पर अपलोड किया। (पाकिस्तान में छात्रों को बेरहमी से पीटने का VIDEO हुआ वायरल)

मारकर खाए गए इन जानवरों में संरक्षित बिल्ली की प्रजाति फिशिंग कैट (Prionailurus viverrinus), किंग कोबरा और हेरॉन पक्षी भी शामिल थे। जब यह वीडियो सभी जगह वायरल हुआ तो कंबोडिया के पर्यावरण मंत्रालय ने महिला और उसके पति के खिलाफ मामला दर्ज किया और दोनों की खोज शुरू कर दी। टुच और उसके पति तो उसी जंगल से पकड़ा गया जहां दोनों वीडियो बनाते थे।

अपना बचाव करते हुए टुच और उसके पति ने कहा कि उन्होंने इन जानवरों का शिकार नहीं किया है। उन्होंने इन जानवरों को बाजार से खरीदा था। फिलहाल इस मामले की जांच की जा रही है। जांच पूरी होने के बाद ही उनकी सजा का पता चल पाएगा।

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 14, 2018
ConferenceBannerAd-200x200-1.png

5min20


To reach the level of mass adoption, cryptocurrency needs to be used—daily, if possible. Bitcoin, Bitcoin Cash (BCH) in particular, is currently seen as more of an investment or a commodity. But the cryptocurrency is more than that. It is, after all, defined by the Satoshi Nakamoto white paper as “a peer-to-peer electronic cash system.”

Bitcoin Cash has the potential to bring economic freedom to the world, but to achieve that, people first need to use it. Not as an investment or a commodity, but also to spend and earn, according to Yours.org co-founder Ryan X. Charles.

[embedded content]

“We think the best use case for cryptocurrency is just the ability to earn money on the internet. We need to get people actually spending the cryptocurrency so that, for instance, you ought to be able to use Bitcoin Cash to buy things on online merchants,” Charles told CoinGeek.

This view paved the way for Yours.org, a novel idea launched by Charles and co-founder Dr. Clemens Ley in 2015 that lets everyday people get paid for doing what they love on social media. Essentially, what the web application does is it allows users to earn Bitcoin Cash not just for creating good content, but also for finding and moderating informative submissions.

“Our mission is two-fold: improve the quality of content on the internet. We think with good incentives, where people can actually earn money for doing a good job, that the quality of content is going to be higher,” Charles said, “We’re going to get rid of trolling, or at least decrease it significantly and decrease clickbaits and things like that, and improve the overall quality of content. And also get people paid, get people paid for creating it, for editing content, for moderating content, things like that.”

No fake news, only credible content

The social media app, which recently raised $1.5 million in a funding round led by Bitmain and nChain, encourages people to create high-quality content using good incentives, like getting paid with Bitcoin Cash. Yours.org is open to all users, not just content creators. Because “not everyone is necessarily a content creator,” Charles said the social media platform also gives people a reason to vote and earn money in the process.

“We have a voting model where next to each article is a voting button where when you vote on the article you give some money to the original creator, the person who wrote the article as well as some money to the other voters,” Charles said. “We give people a reason to vote because they can actually earn more money than they put in if they vote on hot content… so that’s an example of what we’re trying to do to get people to spend and earn Bitcoin Cash.”

At the inaugural CoinGeek Conference on May 18, Charles will be providing an overview on how to incorporate BCH payments in a retail environment. More details about the upcoming one-day conference, designed to give attendees a unique perspective on BCH and its importance in the retail and eCommerce environments, can be found here.

Note: Tokens on the Bitcoin Core (segwit) Chain are Referred to as BTC coins. Bitcoin Cash (BCH) is today the only Bitcoin implementation that follows Satoshi Nakamoto’s original whitepaper for Peer to Peer Electronic Cash. Bitcoin BCH is the only major public blockchain that maintains the original vision for Bitcoin as fast, frictionless, electronic cash.

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 13, 2018

1min20


Publish Date:Sun, 13 May 2018 10:00 AM (IST)

नई दिल्ली(टेक डेस्क)। अगर आपको फोटोग्राफी का शौक है और आप इससे पैसा कमाना चाहते हैं, तो हमारी ये खबर आपको काम की हो सकती है। हम आपको कुछ ऐसे वेबसाइट्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनपर फोटो अपलोड करके आप कमाई कर सकते हैं। ये वेबसाइट्स फोटो पर होने वाली कमाई का हिस्सा आपको देती हैं। ऐसे में अगर आप अपने शौक को जरूरत में बदलना चाहते हैं, तो डालते हैं इन वेबसाइट्स पर एक नजर,

Alamy- वेबसाइट पर आपको अकाउंट बनाना होगा। इसके बाद आप अपनी खींची हुई फोटो को यहां अपलोड कर सकेंगे। अगर आपकी फोटो को कोई यूजर डाउनलोड करता है, तो मुनाफे का 50 फीसदी हिस्सा वेबसाइट आपको देगी।

123RF- वेबसाइट पर आपको अकाउंट बनाना होगा और फिर अपनी खींची हुई फोटो को अपलोड करना होगा। ऑन-लाइन कमाई करने का ये एक अच्छा तरीका है। वेबसाइट फोटो से हुई कमाई का 60 फीसदी हिस्सा आपको देगी।

StockFood- अगर आपको फूड फोटोग्राफी का शौक है, तो आपके लिए ये वेबसाइट एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती है। आप खाने से जुड़ी फोटो और वीडियो को यहां अपलोड कर सकते हैं। फोटो से हुए मुनाफे को वेबसाइट आपसे साझा करती है।

CrowdFoto- इस वेबसाइट पर फोटो के जरिए आप 1,600 रुपये तक कमा सकते है। दरअसल वेबसाइट आपको एक प्रोजेक्ट देगी, जिसको पूरा करते हुए आपको फोटो अपलोड करना होगा। आपकी फोटो की खरीद पर आपको कंपनी की तरफ से भुगतान किया जाएगा। हालांकि कंपनी की सेवा अभी बंद है लेकिन ये जल्द शुरू हो सकती है।

यह भी पढ़ें:

आपका फेसबुक का पासवर्ड किसी और के पास तो नहीं, इन तरीकों से लगाएं पता

इन 5 लोकप्रिय स्मार्टफोन्स को यूजर्स कर रहे हैं पसंद, कीमत 15,000 रुपये से भी कम

13000 रुपये से कम कीमत में ये 5 स्मार्टफोन हो सकते हैं आपकी पहली पसंद 

By Shridhar Mishra

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 9, 2018
09_05_2018-social_media_apps.jpg

1min90


Publish Date:Wed, 09 May 2018 11:46 AM (IST)

नई दिल्ली (टेक डेस्क)। वैसे तो स्मार्टफोन्स पर आप गेम खेलना, ब्राउसिंग करना, वीडियो देखना आपको पसंद होगा लेकिन क्या आप जानते हैं कि स्मार्टफोन पर कुछ ऐसे भी सोशल मीडिया एप्स हैं जिनकी मदद से आप घर बैठे पैसे कमा सकते हैं। आज हम आपके लिए कुछ ऐसे ही एप्स लाएं हैं जिनकी मदद से आप बैठे-बैठे पैसे कमा सकते हैं। इन एप्स में कुछ ऐसे भी एप्स हैं जिनका इस्तेमाल आप हर रोज वीडियो देखने या चैट करने के लिए करते हैं। इन सोशल मीडिया एप्स के जरिए पैसे कमाने के लिए आपको बस अपने फोटो या वीडियो अपलोड करना होगा। अगर आपको गाने का, मिमिकरी करने का, पेंटिंग का या कूकिंग का शौक है तो आप इन एप्स के जरिए आसानी से पैसे कमा सकते हैं। आइए जानते हैं कौन से ऐसे एप्स हैं जिनकी मदद से आप पैसे कमा सकते है

लाइव.मी :

यह एक सोशल मीडिया प्लेटफार्म है जिसकी मदद से यूजर्स लाइव ब्रॉडकास्टिंग या स्ट्रीमिंग कर सकते हैं। यह आप न केवल आपके कला के प्रदर्शन में आपकी मदद करेगा बल्कि इसके जरिए आप अपने फैन्स भी बना सकते हैं। लाइव एप के जरिए फैन्स अपने आइडल्स को वर्चुअल गिफ्ट भेज सकते हैं जिसे ‘पेपल’ के जरिए रिडीम किया जा सकता है।

यूट्यूब :

यूट्यूब पर न सिर्फ अपने पसंदीदा वीडियो स्ट्रीम कर सकते हैं बल्कि इसके जरिए आप खूब सारा पैसा भी कमा सकते हैं। इस एप के जरिए आप अपना वीडियो अपलोड कर सकते हैं, साथ ही इसपर अपलोड किए हुए वीडियो को आप अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं। अगर आपके किसी मित्र ने कोई वीडियो अपलोड किया है तो उसपर आप रेट और कमेंट भी कर सकते हैं। इस एप पर वीडियो अपलोड करने के बाद एडवर्चाइजर के जरिए आप पैसा कमा सकते हैं। अगर आपके वीडियो पर व्यूज ज्यादा से ज्यादा मिलता है तो आपकी अच्छी खासी कमाई भी हो सकती है।

इंस्टाग्राम :

फेसबुक की सहयोगी सोशल मीडिया प्लेटफार्म इंस्टाग्राम भी इन दिनों युवाओं में काफी लोकप्रिय है। इस एप के जरिए आप न सिर्फ वीडियो या फोटो अपलोड कर सकते हैं बल्कि इसके जरिए आप लाइव ब्रॉडकास्ट और स्ट्रीमिंग भी कर सकते हैं। अगर आपको म्यूजिक और डांस का शोक है तो आप अपने वीडियो अपलोड कर सकते हैं। अगर आपका अकाउंट लोकप्रिय हो जाता है यानी कि आपके फॉलोअर्स बढ़ जाते हैं तो विभिन्न ब्रैंड्स के साथ साझेदारी करके आप कमाई कर सकते हैं।

फेसबुक :

यह सोशल मीडिया एप सबसे ज्यादा लोकप्रिय है, स्मार्टफोन रखने वाला हर यूजर्स इस एप का इस्तेमाल करते हैं। इस एप के जरिए न सिर्फ आप अपने विचार शेयर कर सकते हैं ब्लकि इस एप के जरिए आप फोटो, वीडियो, लाइव ब्रॉडकास्ट और स्ट्रीमिंग भी कर सकते है। इस एप पर पैसे कमाने के लिए आपको अपने प्रोफाइल के जरिए एक पेज क्रिएट करना होगा, जिसपर एडवर्टाइजिंग के जरिए आप पैसे कमा सकते हैं।

इन सभी सोशल मीडिया एप पर पैसे कमाने के लिए आपको सबसे पहला काम अपने फॉलोअर्स को बढ़ाना होगा। इसके लिए आपको प्रतिदिन फोटो या वीडियो पोस्ट करना होगा साथ ही साथ आपको अपने फ्रेंडलिस्ट या फॉलोअर्स लिस्ट से रेगुलर बेसिस पर इंटरेक्ट करना होगा।

यह भी पढ़ें :

Paytm से अब बिना इंटरनेट भी कर पाएंगे पेमेंट, तेज और हाइक एप से है टक्कर

व्हाट्सएप को चला सकते हैं बिना इंटरनेट भी, इस ट्रिक का करें इस्तेमाल

फेसबुक, व्हॉट्सएप, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर पढ़ें दोस्तों का मैसेज, नहीं चलेगा उन्हें पता

By Shilpa Srivastava

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 8, 2018
default_500.png

2min110


ख़बर सुनें

अभी तक डाक विभाग के अधिकारी और कर्मचारी ही लोगों के संदेश व सामान एक जगह से दूसरे जगह तक पहुंचाने और पैसे के लेन-देन का काम करते हैं, लेकिन अब आम आदमी भी यह काम घर बैठे कर सकेंगे। 

विभाग ने फ्रेंचाइजी योजना की शुरुआत की है। इसके तहत अब कोई भी व्यक्ति फ्रेंचाइजी लेकर अपने घर या दुकान में डाकघर खोल सकता है। आगरा जिले के लिए मई में फ्रेंचाइजी टारगेट मिलने की संभावना है।

इस योजना के तहत फ्रेंचाइजी लेने वाला व्यक्ति ग्राहकों को मनीआर्डर, रजिस्ट्री, स्पीड पोस्ट व टिकट बेचने के साथ पेमेंट बैंकिंग की सुविधा भी दे सकेगा। इसके एवज में उसे कमीशन के तौर पर रकम मिलेगी। 

आगे पढ़ें

ऐसे ले सकते हैं डाकघर की फ्रेंचाइजी

Let’s block ads! (Why?)



Source link


SunnyMay 8, 2018
06_05_2018-indianepalborder.jpg

1min40


Publish Date:Tue, 08 May 2018 02:17 PM (IST)

सिलीगुड़ी, जागरण संवाददाता। वाहन लेकर सीमा पार जाओ और पैसा कमाओ पढ़कर कुछ अटपटा लग रहा होगा। जब आपको इसकी सच्चाई पता चलेगी तो आप भी आश्चर्यचकित रहे बिना नहीं रह सकते। दोनो देशों के बीच पेट्रोलियम पदार्थ के दामों में कमी के कारण यहां धड़ल्ले से इसकी तस्करी हो रही है। इसके लिए वाहनों का प्रयोग किया जा रहा है।

पूर्वोत्तर का प्रवेशद्वार उत्तर बंगाल। यह अंतरराष्ट्रीय और अंतरराज्यीय सीमाओं से घिरा हुआ है। इन दिनों देश में पेट्रोलियम पदार्थो के मूल्यों में लगातार वृद्धि हो रही है, जिससे आम जनता परेशान है। इसके ठीक उल्टा नेपाल और भूटान बोर्डर के लोगों के लिए यह वरदान साबित हो रहा है। जब-जब पेट्रोलियम पदार्थ का दाम बढ़ता है तब तक सीमावर्ती क्षेत्र के लोग खुश रहते है क्योंकि वे अपने जरुरत और दूसरे को बेचने के लिए भारतीय पेट्रोल पंप से नहीं बल्कि नेपाल और भूटान के पेट्रोल पंपों से लाते है। यहां खुलेआम सड़कों पर बोतलों में पेट्रोलियम पदार्थ बेचते देखा जा सकता है।

सीमा पार नेपाल और भूटान में भारतीय मुद्रा में पेट्रोल 10.62 रुपये और डीजल 14.20 रूपये सस्ता है। उत्तर बंगाल से लगी नेपाल और भूटान की सीमा जयगांव, चामुर्ची, खोरीबाड़ी, डांगूजोत, पानीटंकी, बतासी, नक्सलबाड़ी से प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में भारतीय क्षेत्र में नहीं के बरामद तेल भरवाकर वाहन लेकर नेपाल और भूटान पहुंचते है। वहां वाहन की टंकी फूल कराकर वापस लौटते है। लौटने के बाद तेल को बाहर निकाल फिर सीमा पार पहुंचते है। दिन भर में चार से पांच बार ऐसा करते है जिससे उनकी कमाई पांच सौ से एक हजार रुपये होता है।

कई ऐसे धंंधेबाज है जो सीमा पार से बड़ी मात्रा में पेट्रोलियम पदार्थ की तस्करी करने में लगे है। पड़ोसी राज्य असम और बिहार के तस्करों द्वारा भी इसका लाभ उठाया जा रहा है। शिक्षक अमर राय का कहना है कि जब नेपाल में पेट्रोल सत्ता मिल रहा है तो भारत में मंहगा क्यों डाले। जितनी दूर भारतीय पेट्रोल पंप तक जाना होगा उनता ही सीमा पार नेपाल में पेट्रोलपंप है। भारत नेपाल और भूटान की खुली सीमा और पारगमन संधि के कारण प्रशासनिक अधिकारी ऐसे वाहन को रोक भी नहीं पाते है।

लगातार हो रही तस्करी के कारण नेपाल में पेट्रोलियम पदार्थ पेट्रोल डीजल की मांग बढ़ गयी है इसका असर वहां के जन जीवन पर पड़ रहा है। भारतीय सीमावर्ती क्षेत्र की बात करें तो यहां के पेट्रोल पंपों में सन्नाटा है जबकि नेपाल के पेट्रोल पंप पर भारी भीड़ है।

नेपाल और भूटान के आयल निगम के अधिकारी भी मानते है कि दाम के अंतर से यहां 25 से 30 प्रतिशत पेट्रोल डीजल की मांग बढ़ी है। नेपाल में इन दिनों निजी वाहनों की हड़ताल चल रही है जिसके कारण ज्यादा असर नहीं दिख रहा है जब निजी वाहन के हड़ताल समाप्त हो जाएंगे तो यहां पेट्रोलियम पदार्थ का संकट गहराने लगेगा।

Let’s block ads! (Why?)



Source link