एजुकेशन माफिया के खिलाफ लड़ रही है सरकारः मनीष सिसोदिया – नवभारत टाइम्स

एजुकेशन डिपार्टमेंट के निर्देश पर सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों के पैरंट्स से उनके मतदाता पहचान पत्र, फोन नंबर, अड्रेस और अन्य जानकारियां मांगे जाने पर उठ रहे सवालों का डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जवाब दिया है।

नवभारत टाइम्स | Updated:

नई दिल्ली

एजुकेशन डिपार्टमेंट के निर्देश पर सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों के पैरंट्स से उनके मतदाता पहचान पत्र, फोन नंबर, अड्रेस और अन्य जानकारियां मांगे जाने पर उठ रहे सवालों का डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार एजुकेशन माफिया के खिलाफ लड़ रही है और शिक्षा के माफिया इसे लेकर विवाद कर रहे हैं।

फर्जी ऐडमिशन और ईडब्ल्यूएस ऐडमिशन में फर्जीवाड़े को रोकने के लिए सरकार अड्रेस प्रूफ को वेरिफाई करवा रही है। सिसोदिया ने बताया कि उनकी विधानसभा में एमसीडी से मान्यता प्राप्त एक प्राइवेट में 15 से 20 बच्चों के लिए जगह है, लेकिन वहां पर 50 से ज्यादा बच्चों का नाम दर्ज है और ज्यादातर बच्चे गाजियाबाद और नोएडा के स्कूलों में पढ़ रहे हैं जबकि उनका नामांकन इस स्कूल में है। यह सब इसलिए किया जा रहा है, ताकि छठी क्लास में इन बच्चों को दिल्ली के सरकारी स्कूल में ऐडमिशन दिलवा दिया जाए। इसी तरह से कुछ और स्कूलों में भी फर्जीवाड़ा सामने आया है। सिसोदिया ने चुनाव आयोग की आपत्तियों को खारिज करते हुए कहा है कि जब टेलीकॉम कंपनियां अड्रेस प्रूफ को लेकर वोटर आईकार्ड मांग सकती है, तो दिल्ली के स्कूलों में वोटर आईकार्ड से अड्रेस प्रूफ वेरिफाई क्यों नहीं किया जा सकता।

सिसोदिया ने कहा कि आप सरकार क्षेत्रवाद की राजनीति नहीं करना चाहती। सरकार केवल अड्रेस प्रूफ वेरिफाई करना चाहती है, ताकि दिल्ली सरकार की योजनाओं को फायदा उन सभी को मिले, जो इसके हकदार हैं। उन्होंने कहा कि अगर एड्रेस प्रूफ ठीक है, तो सरकार को कोई परेशानी नहीं है। लेकिन अशोक नगर के दो सरकारी स्कूल को लेकर हुई मैजिस्ट्रेट जांच में पता चला कि वहां पर एक स्कूल में 54 पर्सेंट बच्चे दिए गए पते पर नहीं रहते और एक स्कूल में 61 पर्सेंट बच्चों का जो एड्रेस प्रूफ दिया गया था, उस पते पर बच्चे और उनके पैरंट्स नहीं रहते।

 

पाइए दिल्ली समाचार(delhi News in Hindi)सबसे पहले नवभारत टाइम्स पर। नवभारत टाइम्स से हिंदी समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App और रहें हर खबर से अपडेट।

delhi
News
 से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
Web Title we are fighting against education mafia says manish sisodia

(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *