बच्चों ने जाना पिताजी कितनी महेनत से कमाते हैं पैसा

सूरत
टेक्सटाइल सेक्टर में भी कर्मचारियों के हित को प्राधान्य देने की शुरूआत हो चुकी है। इसी सोच के साथ लक्ष्मीपति ग्रुप में भी सोमवार को उनके यहां काम करने वाले कर्मचारियों के लिए स्नेहमिलन समारोह का आयोजन किया गया।

ग्रुप के एमडी संजय सरावगी ने बताया कि स्नेहमिलन का मुख्य आशय कर्मचारियों के परिवारजनों को बताना है कि उनके स्वजन यहां क्या काम करते हैं, किस तरह से वह दिन भर महेनत कर अपने परिवारजनों के लिए पैसे कमाते हैं। इसके अलावा ऐसे आयोजन से कर्मचारियों के परिवारजनों को कंपनी और उनके संचालकों के बारे में जानने को मिलता है। इसमें कर्मचारी और उनके परिवारजन एकत्रित होते हैं और उनके बीच भाईचारा बनता हैं। एक दूसरे को जानने पहचानने का मौका मिलता है। साल भर काम करने वाले श्रमिक को यदि इस तरह से प्रोत्साहित किया जाए तो उसका प्रदर्शन और सुधरता है। स्नेहमिलन के दौरान लगभग 3000 लोग उपस्थित रहें। कर्मचारियों के लिए यहां खानपान के साथ मनोरंजन की भी व्यवस्था की गई थी।

कपड़ा बाजार में बुधवार से दिवाली वेकेशन
सूरत
कपड़ा बाजार में ऐसे तो धनतेरस से ही कई व्यापारी पुजा के बाद दिवाली वेकेशन पर चले गए, और जो बचे हैं वह अब बुधवार से दिवाली वेकेशन करेंगे। इस बार दिवाली पर व्यापार कम रहने से व्यापारी निराश हैं। दिवाली वेकेशन के बाद व्यापारी लग्नसरा की बिक्री की तैयारी में जुट जाएगें
फोस्टा की ओर से 12 नवंबर तक दिवाली वेकेशन रखने की सूचना सभी मार्केट एसोसिएशन को दी गई है। व्यापारियों का कहना है कि भले ही फोस्टा की ओर से 12 नवंबर तक दिवाली वेकेशन की सूचना दी गई है लेकिन कपड़ा बाजार में मंदी की परिस्थिति को देखते हुए दिवाली वेकेशन लंबा चलने की संभावना है। इस बार दिवाली पर व्यापार कम रहने से व्यापारी निराश हैं। दिवाली वेकेशन के बाद व्यापारी लग्नसरा की बिक्री की तैयारी में जुट जाएगें।

Let’s block ads! (Why?)


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Sunnywebmoney.Com


CONTACT US




Newsletter


Categories