चीन का यह बैंक भी भारत में जल्द देगा दस्तक, पीएमओ के हस्तक्षेप के बाद आरबीआई ने जारी किया लाइसेंस

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला
Updated Wed, 04 Jul 2018 03:27 PM IST

ख़बर सुनें

पड़ोसी देश चीन में स्थित विश्व के चौथे सबसे बड़ा बैंक जल्द ही भारत में दस्तक देने जा रहा है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बैंक ऑफ चाइना को अपनी शाखाएं खोलने की अनुमति दे दी है। यह मंजूरी तब मिली है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच एससीओ समिट में बातचीत के सहमति बनी। 

इतना बड़ा है कारोबार
बैंक ऑफ चाइना का मार्केट कैप 158.6 बिलियन डॉलर के करीब है और यह हांगकांग व शंघाई स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड है। यह चीन का भी चौथा सबसे बड़ा बैंक है और सरकार के नियंत्रण में है। वहीं संपत्तियों के मामले में यह देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक है। बैंक के कई बड़े कार्पोरेट ग्राहकों का भारत में बड़ा बिजनेस है। 

चीन का सबसे पुराना है बैंक
बैंक ऑफ चाइना चीन का सबसे पुराना बैंक हैं। इसकी स्थापना शंघाई में 1912 में हुई थी। 1942 तक बैंक ऑफ चाइना सरकार की तरफ से करेंसी नोट भी जारी करता था। अब बैंक चीन को छोड़कर के हांगकांग और मकाऊ में करेंसी नोट जारी करता है।

बैंक की चीन के अलावा विश्व के 27 देशों में ब्रांचेज हैं। 31 मार्च 2016 को समाप्त हुए वित्त वर्ष में बैंक का टोटल असेट वैल्यू 2639.77 बिलियन यूएस डॉलर (176.8 लाख करोड़ रुपये) है।


आगे पढ़ें

चीन के इस बैंक को पहले ही मिल चुकी मंजूरी

Let’s block ads! (Why?)


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Sunnywebmoney.Com


CONTACT US




Newsletter


Categories