कुलपति प्रो. नौड़ियाल को बेहतर उच्च शिक्षा के लिए अवॉर्ड

कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. डीके नौड़ियाल को उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए बेहतर प्रदर्शन पर बोध गया बिहार स्थित मगध यूनिवर्सिटी में सम्मानित किया गया है। इंडियन इकोनोमिक एसोसिएशन की ओर से प्रो. नौड़ियाल को लाइफ टाइम एचीवमेंट अवॉर्ड से नवाजा गया है। नैनीताल पहुंचने पर कुलपति प्रो. नौड़ियाल ने बताया कि इंडियन इकोनोमिक एसोसिएशन तथा इकोनोमिक एसोसिएशन ऑफ बिहार की ओर से बोध गया स्थित मगध यूनिवर्सिटी में समारोह आयोजित किया गया था। 22 से 24 जून तक चले समारोह में देश के विभिन्न स्थानों के विद्वानों को सम्मानित किया गया। कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. डीके नौड़ियाल को विश्वविद्यालय का सम्मान बढ़ाने के लिए सम्मानित किया गया। प्रो. नौड़ियाल ने अपना करियर 1 सितंबर 1985 को यूनिवर्सिटी ऑफ रुड़की में बतौर शिक्षक शुरू किया। जिसे वर्ष 2001 में आईआईटी रुड़की का नाम दिया गया। प्रो. नौड़ियाल आईआईटी रुड़की में वर्ष 2014 से 2017 तक डीन ऑफ स्टूडेंट वैलफेयर रहे। वर्ष 2017 में उन्हें कुमाऊं विवि के कुलपति के रूप में नियुक्ति दी गई।प्रो. नौड़ियाल को इससे पूर्व 2012 में आउट स्टेंडिंग टीचर अवॉर्ड से भी नवाजा जा चुका है। प्रो. नौड़ियाल द्वारा लिखित किताब रोटलेज प्रकाशित हो चुकी है। जबकि माइग्रेन इन गढ़वाल अंडर पब्लिकेशन है। उनके 60 रिसर्च पेपर अब तक प्रकाशित हो चुके हैं। उल्लेखनीय है कि इंडियन इकोनोमिक एसोसिएशन की ओर से देश के प्रतिष्ठित अर्थशास्त्रियों को यह सम्मान दिया जाता है। ऐसे में कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. नौड़ियाल को यह सम्मान मिलना कुमाऊं के लिए गर्व की बात है।

Let’s block ads! (Why?)


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Sunnywebmoney.Com


CONTACT US




Newsletter


Categories