Mutual Fund Investment: म्यूचुअल फंड में निवेश कर ज्यादा रिटर्न कैसे कमाएं?

म्यूचुअल फंड में पैसे निवेश करने से वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए पर्याप्त कॉर्पस बनाने में मदद मिल सकती है.

हर नौकरीपेशा इंसान के कुछ सपने होते हैं जिसको हासिल करने के लिए वह अपनी आय से कुछ पैसे अलग कर विभिन्न जगहों पर निवेश करता है. यह लक्ष्य व्यक्ति दर व्यक्ति बदलती रहती है. किसी के लिए कार खरीदना उसका लक्ष्य हो सकता है तो किसी के लिए अपने बच्चे को उच्च शिक्षा देना, तो किसी के लिए एक बड़ा घर खरीदना हो सकता है. ऐसे वित्तीय लक्ष्यों को हासिल करने के लिए जरुरी होता है कि आप अपने मेहनत से कमाएं पैसों को ऐसी जगह निवेश करें जो आपके पैसे कई गुना बढ़ा दे. म्यूचुअल फंड में पैसे निवेश करने से वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए पर्याप्त कॉर्पस बनाने में मदद मिल सकती है, फिर चाहे वह अल्पावधि हो या दीर्घकालिक.

  • अनुशासित और नियमित निवेश के लिए SIP का उपयोग करें

सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान आपको एक अनुशासित निवेशक बनता है क्योंकि यह एक ऐसा प्लान है जिसके अंतर्गत एक निश्चित राशि आपके खाते से हर माह स्वयं कट जाती है. आप केवल 500 रुपये के न्यूनतम योगदान के साथ एसआईपी में निवेश शुरू कर सकते हैं.

  • एक विविध पोर्टफोलियो बनाएं

आपको निवेश के लिए पोर्टफोलियो विविधीकरण रणनीति अपनानी चाहिए जिससे आपके पोर्टफोलियो में विभिन्न संपत्ति वर्ग, फंड हाउस और निवेश शैली का समायोजन हो. अधिकतर निवेशक विविधता के रूप में डुप्लिकेशंस कर बैठते हैं जिसका खामियाजा उन्हें भविष्य में उठाना पड़ता है. विविधीकरण का उद्देश्य विभिन्न संपत्ति वर्गों या फंड हाउसों में निवेश करके समग्र जोखिम को कम करना होता है वहीं डुप्लिकेशंस में निवेश की गई पूंजी सामान तरह की सिक्योरिटीज में पैसा लगाना होता है जो किसी प्रकार की विविधता नहीं प्रदान करता.

  • प्रत्यक्ष योजनाओं के माध्यम से निवेश करें

एजेंटों को ब्रोकरेज या कमीशन के रूप में अपने रिटर्न का एक हिस्सा देने के बजाए और कुल कमाई को कम करने के बजाय, आपको प्रत्यक्ष योजनाओं के माध्यम से म्यूचुअल फंड में निवेश करने का विकल्प चुनना चाहिए. एएमसी या ऑनलाइन वेबसाइटों के माध्यम से आप सीधे फंड हाउस से म्यूचुअल फंड खरीद सकते है.

  • आवधिक समीक्षा और पुनर्वितरण

महज पोर्टफोलियो बनाने भर से आपका काम समाप्त नहीं हो जाता है, यह आपके सपनों को पूरा करने का पहला पड़ाव होता है. यहां से आवश्यक होता है कि आप अपने पोर्टफोलियो को नियमित तौर से निरक्षण करें. आपको नियमित अंतराल पर पोर्टफोलियो की समीक्षा करनी चाहिए और हर संभव सुधारात्मक कार्रवाई करनी चाहिए.

Let’s block ads! (Why?)


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Sunnywebmoney.Com


CONTACT US




Newsletter


Categories